Current Date: 29 Feb, 2024
Sabke Ram APP

बहे असुवन की लंबी धार (Bahe Asuwan Ki Lambi Dhar) - Uday Lucky Soni


बहे असुवन की लंबी धार लिरिक्स हिंदी में (Bahe Asuwan Ki Lambi Dhar Lyrics in Hindi)

बहे असुवन की लंबी धार,
माई विसर्जन में ॥

दोहा – हम तेरे द्वार में ऐ मैया,
झोली फैलाए बैठे हैं,
हम तेरी आस में,
दुनिया भुलाए बैठे हैं ॥

लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में,
बहे असुवन की लंबी धार,
माई विसर्जन में ॥

कैसे करूं माँ तेरा विसर्जन,
दुख में भीग रहा मेरा तन,
बहती है असुवन जल की धारा,
समझाये न समझे ये मन,
कांपे थर थर मेरा ये बदन,
माई विसर्जन में,
लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में ॥

माँ तुमने क्यूँ मुखड़ा मोड़ा,
आज चली क्युं रिश्ता जोड़ा,
योगी दसम दिन है दुखदाई,
मां ने हमसे लेली विदाई,
कुछ तो मां बोलो कहो हे मां,
माई विसर्जन में,
लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में ॥

मुरझाया सा मन का बगीचा,
माँ तुमने जिसको था सींचा,
अश्क बहाती दिल की गलियां,
सूख रही दिल की गलियां,
लड़खड़ाती है मेरी ज़ुबा,
माई विसर्जन में,
लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में ॥

कैसी घड़ी आई दुखदाई,
लेके चली मां आज विदाई,
मुश्किल में है पल ये हमारे,
कैसे सहूंगा तेरी जुदाई,
रोते रोते ये कहता है मन,
माई विसर्जन में,
लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में ॥

लगी भगतन की भीड़ अपार,
माई विसर्जन में,
बहें असुवन की लंबी धार,
माई विसर्जन में ॥

बहे असुवन की लंबी धार लिरिक्स अंग्रेज़ी में (Bahe Asuwan Ki Lambi Dhar Lyrics in English)

Bahe Asuwan Ki Lambi Dhar,
Mai Visarjan Mein ॥

Doha – Hum Tere Dwar Mein Aye Maiya,
Jholi Phailaye Baithe Hain,
Hum Teri Aas Mein,
Duniya Bhulaye Baithe Hain ॥

Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein,
Bahe Asuwan Ki Lambi Dhar,
Mai Visarjan Mein ॥

Kaise Karoon Maan Tera Visarjan,
Dukh Mein Bheeg Raha Mera Tan,
Bahati Hai Asuwan Jal Ki Dhara,
Samjhaye Na Samjhe Ye Man,
Kampe Thar Thar Mera Ye Badan,
Mai Visarjan Mein,
Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein ॥

Maan Tumne Kyun Mukhda Moda,
Aaj Chali Kyun Rishta Joda,
Yogi Dasam Din Hai Dukhdai,
Maan Ne Humse Leli Vidai,
Kuchh to Maan Bolo Kaho Hey Maan,
Mai Visarjan Mein,
Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein ॥

Murjhaya Sa Man Ka Bagicha,
Maan Tumne Jisko Tha Seencha,
Ashk Bahati Dil Ki Galiyan,
Sookh Rahi Dil Ki Galiyan,
Ladkhadati Hai Meri Zuba,
Mai Visarjan Mein,
Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein ॥

Kaisi Ghadi Aai Dukhdai,
Leke Chali Maan Aaj Vidai,
Mushkil Mein Hai Pal Ye Hamare,
Kaise Sahunga Teri Judai,
Rote Rote Ye Kahata Hai Man,
Mai Visarjan Mein,
Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein ॥

Lagi Bhagtan Ki Bheed Apar,
Mai Visarjan Mein,
Bahen Asuwan Ki Lambi Dhar,
Mai Visarjan Mein ॥

Singer - Uday Lucky Soni