Current Date: 14 Jun, 2024
Sabke Ram APP

माथे पे चंदा तन में भस्म रमाया है - Kundan Mishra


जटा में गंगा माथे पे चंदा तन में भस्म रमाया है
गोरा संग केलाश विराजे अद्भुद तेरी माया है
जटा में गंगा माथे पे चंदा तन में भस्म रमाया है

मुझको भी हे नाथ बुलालो दर्शन दो के जिया जुडा,
जपु मैं ॐ नमः शिवाय शम्बू रहना सदा सहाए

बेल पत्र सा तीन नेत्र है तीनो लोक निहार रहे
भोले नाथ जी देदो साथ जी भक्त तुम्हारे पुकार रहे
सावन के जैसा ही मुझपर भगती का रस दो बरसा
जपु मैं ॐ नमः शिव्ये

महादेव हो महाकाल हो उमा पति अविनाशी
तुम्ही अधि हो तुम्ही अंत हो तुम्ही नाथ घट घट वासी
कुंदन पुनीत कुमार अमित का जीवन दो सफल बना
जपु मैं ॐ नमः शिव्ये

Singer - Kundan Mishra