Current Date: 23 May, 2024
Sabke Ram APP

जय माता दी बोल रे - Sanjo Baghel


F:-    मैया के दरबार की बड़ी पुरानी रीत पाता है वरदान वो कर जो माँ से प्रीत 
    आल्हा जैसा होयेगा अमर तुम्हारा नाम भक्ति भाव से आइये पावन मय्यर धाम

F:-    जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

F:-    दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

F:-    चौखट जिसकी सुहानी है वो मेयर वाली भवानी है 
कोरस :-     चौखट जिसकी सुहानी है वो मेयर वाली भवानी है 
F:-    अमर बनाती है भगतो को शारदा माँ वरदानी है 
कोरस :-     अमर बनाती है भगतो को शारदा माँ वरदानी है 
F:-    खुद को जरा टटोल रे तू भक्ति का रस घोल रे 
    
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कहि नहीं रे 
कोरस :-     दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
F:-    जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

F:-    पर्वत पर हरियाली है ये शोभा बड़ी निराली है 
कोरस :-     पर्वत पर हरियाली है ये शोभा बड़ी निराली है 
F:-    रोज दशहरा लगता हमको रोज ही दिवाली है 
कोरस :-     रोज दशहरा लगता हमको रोज ही दिवाली है 
F:-    बजते हर वक्त ढोल रे गूंजे माता के बोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कहि नहीं रे 
कोरस :-     दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
F:-    जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

F:-    कभी तू मय्यर आके देख प्रेम से शीश झुका के देख 
कोरस :-     कभी तू मय्यर आके देख प्रेम से शीश झुका के देख
F:-    कल्याणी माता शारद की महिमा निरंजन गाके देख 
कोरस :-     कल्याणी माता शारद की महिमा निरंजन गाके देख 
F:-    संजो माँ बेमोल रे तू ममता को ना तोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कहि नहीं रे 
कोरस :-     दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
F:-    जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

F:-    दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     दुःख के बंधन खोल रे तू माँ सुमिरन में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
F:-    ए जय माता दी बोल रे तू माँ शारद में डोल रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
कोरस :-     ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 
    ऐसा प्यारा माँ का सहारा कही नहीं कही नहीं कही नहीं रे 

Singer - Sanjo Baghel