Current Date: 14 Jun, 2024
Sabke Ram APP

मंदिर में वैष्णो के - Avinash Karn


M:-    मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
M:-    मनचाही यहाँ अपनी तकदीर लिखा जाए 
कोरस :-     मनचाही यहाँ अपनी तकदीर लिखा जाए 
M:-    मंदिर में वैष्णव के  एक बार जो आ जाये 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 

M:-    माता के रजिस्टर में जो भी नाम लिखाता है 
कोरस :-     माता के रजिस्टर में जो भी नाम लिखाता है 
M:-    माता की दया ममता पहले वही पाता है 
    एक बार जो सर अपना इस द्वार झुका जाए 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
M:-    मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 

M:-    माँ के द्वार पे कटती है कर्मो की जंजीरे 
कोरस :-     माँ के द्वार पे कटती है कर्मो की जंजीरे 
M:-    इस द्वार पे बनती है बिगड़ी हुई तकदीर 
    जो भी सोचा ना सपनो में यहाँ आकर पा जाए 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
M:-    मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 

M:-    माँ तो रोज बुलाती है तुम ही तो नहीं जाते 
कोरस :-     माँ तो रोज बुलाती है तुम ही तो नहीं जाते 
M:-    आवाज लगाती है तुम्ही तो नहीं जाते 
    एक बार बुलाओ तुम माँ दौड़ के आ जाए 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
M:-    मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
कोरस :-     मंदिर में वैष्णो के  एक बार जो आ जाये 
 

Singer - Avinash Karn