Current Date: 13 Apr, 2024
Sabke Ram APP

माँ शैलपुत्री की कथा (Shailputri Ki Katha) - Rakesh Kala


माँ शैलपुत्री की कथा लिरिक्स हिंदी में (Shailputri Ki Katha Lyrics in Hindi)

जय जय जय माँ आदि भवानी 
शक्ति स्वरूप जग कल्याणी 
वरदानी कल्याणी माँ ममता मई महारानी माँ 

शैल पुत्री माँ तुम्हे पुकारूँ 
प्रथम नवराते राह निहारूं 
जय अम्बे जय जय अम्बे शैल सुता माँ जगदम्बे 

दक्ष लली माँ शक्ति भवानी 
शिव शंकर की तुम पटरानी 
ठेस लगी टुटा सम्मान कूद हवन में त्यागे प्राण 

महादेव से पुनः मिलन को 
फिर से धारा पावन तन को 
राजा हिमालय पर्वत राज जिनके घर में जन्मी आप 

शैल सुता बनकर तुम आई 
शैल पुत्री माँ तुम कहलाई 
पड़ा शैल जा आपका नाम सदा भक्तो के संवारे काम 

वृषभ का वाहन आपने पाया 
जगत भ्रमण करती महा माया 
हाथ में शोभित है त्रिशूल ह्रदय आपका कोमल फूल 

नव रात्रो की प्रथम प्रार्थना 
भक्त आपकी करे उपासना 
भक्त आपका करते ध्यान पूजा करे करे याशमान 

अपने शिव से ब्याह रचाया 
वर के रूप में शिव को पाया 
दिव्य सलोना अनुपम रूप कमल पुष्प सम लगे स्वरुप 

प्रथम नवराते तुमको वंदन 
घर घर में होता अभिनन्दन 
कष्टों का माँ करो निदान शैल पुत्री माँ दी वरदान 

शैलपुत्री माँ तुम ही दयालु 
करुणा मई तुम हो कृपालु 
करुणा दृष्टि निहारो माँ संकट सबके टारो माँ 

वरद हस्त सिर पर रख दीजे 
शैल पुत्री माँ कृपा कीजे 
तुम हो माँ जग तारणहार सब जीवो की पालनहार 

हर युग पर चले राज तुम्हारा 
समय चक्र भी तुमसे हारा 
तुम ही बड़ी बल शाली माँ करो जगत रखवाली माँ 

मेरे द्वारे आन पधारो 
मेरे साये भाग सांवरो 
पलकन रोज बुहारूं द्वार विनती करलो माँ स्वीकार

प्रथम आपकी जोत जगाऊँ 
नव रात्रि त्यौहार मनाऊँ
पुष्प नारियल और मिष्ठान करूँ आपका मंगल गान 

मम इच्छा पूर्ण कर दीजे
शरणागति की रक्षा कीजे 
है सुखदेव बड़ा अज्ञान दे दो का बल बुद्धि ज्ञान

माँ शैलपुत्री की कथा लिरिक्स अंग्रेजी में (Shailputri Ki Katha Lyrics in English)

Jay jay jay maan aadi bhavaanii 
Shakti svaruup jag kalyaaṇii 
Varadaanii kalyaaṇii maan mamataa maii mahaaraanii maan 

Shail putrii maan tumhe pukaaruun 
Pratham navaraate raah nihaaruun 
Jay ambe jay jay ambe shail sutaa maan jagadambe 

Daksh lalii maan shakti bhavaanii 
Shiv shankar kii tum paṭaraanii 
Ṭhes lagii ṭuṭaa sammaan kuud havan men tyaage praaṇa 

Mahaadev se punah milan ko 
Phir se dhaaraa paavan tan ko 
Raajaa himaalay parvat raaj jinake ghar men janmii aapa 

Shail sutaa banakar tum aaii 
Shail putrii maan tum kahalaaii 
Padaa shail jaa aapakaa naam sadaa bhakto ke samvaare kaama 

Vṛshabh kaa vaahan aapane paayaa 
Jagat bhramaṇ karatii mahaa maayaa 
Haath men shobhit hai trishuul hraday aapakaa komal phuula 

Nav raatro kii pratham praarthanaa 
Bhakt aapakii kare upaasanaa 
Bhakt aapakaa karate dhyaan puujaa kare kare yaashamaana 

Apane shiv se byaah rachaayaa 
Var ke ruup men shiv ko paayaa 
Divy salonaa anupam ruup kamal pushp sam lage svarupa 

Pratham navaraate tumako vandana 
Ghar ghar men hotaa abhinandana 
Kashṭon kaa maan karo nidaan shail putrii maan dii varadaana 

Shailaputrii maan tum hii dayaalu 
Karuṇaa maii tum ho kṛpaalu 
Karuṇaa dṛshṭi nihaaro maan sankaṭ sabake ṭaaro maan 

Varad hast sir par rakh diije 
Shail putrii maan kṛpaa kiije 
Tum ho maan jag taaraṇahaar sab jiivo kii paalanahaara 

Har yug par chale raaj tumhaaraa 
Samay chakr bhii tumase haaraa 
Tum hii badii bal shaalii maan karo jagat rakhavaalii maan 

Mere dvaare aan padhaaro 
Mere saaye bhaag saanvaro 
Palakan roj buhaaruun dvaar vinatii karalo maan sviikaar

Pratham aapakii jot jagaauun 
Nav raatri tyowhaar manaauun
Pushp naariyal owr mishṭhaan karuun aapakaa mangal gaana 

Mam ichchhaa puurṇ kar diije
Sharaṇaagati kii rakshaa kiije 
Hai sukhadev badaa ajñaan de do kaa bal buddhi jñaana

और मनमोहक भजन :-

अगर आपको यह भजन अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अन्य लोगो तक साझा करें एवं किसी भी प्रकार के सुझाव के लिए कमेंट करें।

Singer - Rakesh Kala