Current Date: 23 May, 2024
Sabke Ram APP

स्कंदमाता की कथा (Skandmata Ki Katha) - Rakesh Kala


स्कंदमाता की कथा लिरिक्स हिंदी में (Skandmata Ki Katha Lyrics in Hindi)

आज तुम्हे स्कंदमाता की कथा सुनाते है पावन कथा सुनाते है 
ताड़का  सुर नामक राक्षस का अंत दिखाते है हम कथा सुनाते है 
पांचवे नवराते का मै वृतांत बताते है हम कथा सुनाते है
ताड़का  सुर नामक राक्षस का अंत दिखाते है हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

नवरातों के पांचवे दिन की कथा सुनाता हूँ
तारकासुर राक्षस का मै आतंक दिखाता हूँ 
महाबाली अभिमानी तारका बड़ा सुर भारी 
छल बल और कपट था उसमे था अत्याचारी 
त्राहि त्राहि मच गई स्वर्ग में मचा था हाहाकार 
तीनो लोको में चाहता था उसका ही अधिकार 
चिंता में थे सारे देवता मान चुके थे हार 
बैठ गए थे हार कर के हो कर के लाचार 
उसके आगे क्या होता है अब बतलाते है 
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

उस राक्षस का वध करने का काम ना था आसान 
वीर बलि बलशाली और था बहुत बड़ा बलवान 
शिव शंकर के पुत्र केहाथो ही  मर सकता था 
उसके सिवा कोई भी उससे ना लड़ सकता था 
सभी देवता आ जाते है पार्वती के पास 
हाथ जोड़ के माँ के आगे करे विनय आर्दश 
कष्ट निवारो संकट टारो संकट में है प्राण 
सिवा आपके हे जग जननी कौन करेगा कल्याण 
सभी देवता थे कितने असहाय ये दिखाते है 
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

युद्ध कला में निपुण थी थे बालक थे कार्तिकेय 
बाला पन स्कन्द का था तारका सुर था अजेय 
स्कन्द माता का रूप धरा पार्वती माँ ने 
पुत्र को अपने युद्ध कला चली है सिखलाने 
अस्त्र शस्त्र की कला सिखाती रण में रण कौशल 
कैसे क्षीण किया जाता है दुश्मन का छल बल 
युद्ध कला रण निति सिखाती है कूट निति का सार 
वीर से बलि की युद्ध के कैसे होगी हार 
इसके आगे क्या होता है वही बतलाते है 
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 

करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

स्कन्द माता से सिख लिया जब युद्ध कला का ज्ञान 
तारकासुर का वध करने को किया है फिर प्रस्थान 
विजय भव का पुत्र को अपने माँ ने दिया है वरदान 
वध करके तारकासुर का करो जगत कल्याण 
चले खोज में तारका सुर को कार्तिकेय भगवान् 
पार्वती माता का देवता करने लगे गुणगान 
तारकासुर ने सुनी सूचना करने लगा अट्हास
हसंते हुए वो कार्तिकेय का करने लगा उपहास 
कैसे युद्ध छिड़ा था उनमे वो बतलाते है
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

बाणों से बाणों की वर्षा तलवारो के वार 
तारकासुर की सेना का होने लगा संघार 
कट कट शीश गिरे असुरो के मच गया हाहाकार 
गुंज रही थी स्वर्ग लोक में बाणों की टंकार 
वर्षो तक रहे वो लड़ते दोनों थे रणबीर 
चले गदाएँ दोनों तरफ से चले तीर पे तीर 
अंत में हार हुयी राक्षस की जीत गए कार्तिकेय 
अपनी माँ को दिया पुत्र ने अपनी जीत का श्रेय 
स्वर्ग लोक में पुष्पों की बरसात दिखाते है
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

पार्वती माता ही स्कन्द माता कहलायी 
गोरी महेश्वरी और हिमालय पुत्री कहलायी 
नवराते के पांचवा दिन है स्कन्द माता का 
कृपा करना माँ जग जननी भागय विधाता का 
विधि पूर्वक जो भी माँ की पूजा करता है 
सुख वैभव धन्य धान्य सभी कुछ उसको मिलता है 
स्कन्द माता की कृपा से सुखी रहे संतान 
माँ है दयालु माँ कृपालु माँ है बड़ी महान 
हाथ जोड़ सुखदेव चरण में शीश नवाते है 
ताड़कासुर नामक राक्षस का अंत दिखाते हम कथा सुनाते है 
करो स्कंदमाता का ध्यान हो जाएगा कल्याण 
हो जाएगा कल्याण ये कथा है बड़ी महान

स्कंदमाता की कथा लिरिक्स अंग्रेजी में (Skandmata Ki Katha Lyrics in English)

Aaj tumhe skandamaataa kii kathaa sunaate hai paavan kathaa sunaate hai 
Taadakaa  sur naamak raakshas kaa amt dikhaate hai ham kathaa sunaate hai 
Paanchave navaraate kaa mai vṛtaant bataate hai ham kathaa sunaate hai
Taadakaa  sur naamak raakshas kaa amt dikhaate hai ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaan

Navaraaton ke paanchave din kii kathaa sunaataa huun
Taarakaasur raakshas kaa mai aatank dikhaataa huun 
Mahaabaalii abhimaanii taarakaa badaa sur bhaarii 
Chhal bal owr kapaṭ thaa usame thaa atyaachaarii 
Traahi traahi mach gaii svarg men machaa thaa haahaakaara 
Tiino loko men chaahataa thaa usakaa hii adhikaara 
Chintaa men the saare devataa maan chuke the haara 
Baiṭh gae the haar kar ke ho kar ke laachaara 
Usake aage kyaa hotaa hai ab batalaate hai 
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaana

Us raakshas kaa vadh karane kaa kaam naa thaa aasaana 
Viir bali balashaalii owr thaa bahut badaa balavaana 
Shiv shankar ke putr kehaatho hii  mar sakataa thaa 
Usake sivaa koii bhii usase naa lad sakataa thaa 
Sabhii devataa aa jaate hai paarvatii ke paasa 
Haath jod ke maan ke aage kare vinay aardasha 
Kashṭ nivaaro sankaṭ ṭaaro sankaṭ men hai praaṇa 
Sivaa aapake he jag jananii kown karegaa kalyaaṇa 
Sabhii devataa the kitane asahaay ye dikhaate hai 
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaan

Yuddh kalaa men nipuṇ thii the baalak the kaartikeya 
Baalaa pan skand kaa thaa taarakaa sur thaa ajeya 
Skand maataa kaa ruup dharaa paarvatii maan ne 
Putr ko apane yuddh kalaa chalii hai sikhalaane 
Astr shastr kii kalaa sikhaatii raṇ men raṇ kowshala 
Kaise kshiiṇ kiyaa jaataa hai dushman kaa chhal bala 
Yuddh kalaa raṇ niti sikhaatii hai kuuṭ niti kaa saara 
Viir se bali kii yuddh ke kaise hogii haara 
Isake aage kyaa hotaa hai vahii batalaate hai 
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 

Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaan

Skand maataa se sikh liyaa jab yuddh kalaa kaa jñaana 
Taarakaasur kaa vadh karane ko kiyaa hai phir prasthaana 
Vijay bhav kaa putr ko apane maan ne diyaa hai varadaana 
Vadh karake taarakaasur kaa karo jagat kalyaaṇa 
Chale khoj men taarakaa sur ko kaartikey bhagavaan 
Paarvatii maataa kaa devataa karane lage guṇagaana 
Taarakaasur ne sunii suuchanaa karane lagaa aṭhaas
Hasante hue vo kaartikey kaa karane lagaa upahaasa 
Kaise yuddh chhidaa thaa uname vo batalaate hai
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaana

Baaṇon se baaṇon kii varshaa talavaaro ke vaara 
Taarakaasur kii senaa kaa hone lagaa sanghaara 
Kaṭ kaṭ shiish gire asuro ke mach gayaa haahaakaara 
Gunj rahii thii svarg lok men baaṇon kii ṭankaara 
Varsho tak rahe vo ladate donon the raṇabiira 
Chale gadaaen donon taraph se chale tiir pe tiira 
Amt men haar huyii raakshas kii jiit gae kaartikeya 
Apanii maan ko diyaa putr ne apanii jiit kaa shreya 
Svarg lok men pushpon kii barasaat dikhaate hai
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaan

Paarvatii maataa hii skand maataa kahalaayii 
Gorii maheshvarii owr himaalay putrii kahalaayii 
Navaraate ke paanchavaa din hai skand maataa kaa 
Kṛpaa karanaa maan jag jananii bhaagay vidhaataa kaa 
Vidhi puurvak jo bhii maan kii puujaa karataa hai 
Sukh vaibhav dhany dhaany sabhii kuchh usako milataa hai 
Skand maataa kii kṛpaa se sukhii rahe santaana 
Maan hai dayaalu maan kṛpaalu maan hai badii mahaana 
Haath jod sukhadev charaṇ men shiish navaate hai 
Taadakaasur naamak raakshas kaa amt dikhaate ham kathaa sunaate hai 
Karo skandamaataa kaa dhyaan ho jaaegaa kalyaaṇa 
Ho jaaegaa kalyaaṇ ye kathaa hai badii mahaana

और मनमोहक भजन :-

अगर आपको यह भजन अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अन्य लोगो तक साझा करें एवं किसी भी प्रकार के सुझाव के लिए कमेंट करें।

Singer - Rakesh Kala