Current Date: 18 Jul, 2024

इन्तजार करूँगा कब तू मंदिर खोलेगा (Intjaar Karunga Kab Tu Kub Tu Mandir Kholega) - Kanhiya Mittal


मुझे पता है खाटू वाले,
तू सब देख रहा,
मुझे पता है खाटू वाले,
तू सब देख रहा,
मैं सोच रहा हूं,
कब तू बाबा खोलेगा,
मैं घर से आया बाबा,
तेरे दर्शन को,
इंतजार करूंगा,
कब तु मंदिर खोलेगा,
मुझे पता है.....।

आया मैं आया,
बाबा मैं तो आया,
भक्तों के सरताज तुम्ही हो,
मेरे तो महाराज तुम्ही हो,
मंदिर के अंदर से,
क्या मुझको बोलेगा,
इंतजार करूंगा,
कब तू मंदिर खोलेगा,
मैं रंग लगाने आया,
तुझको सांवरिया,
इंतजार करूंगा,
कब तू मंदिर खोलेगा,
मुझे पता है.....।

हमको तुमसे मोहब्बत हो गई,
सांवरिया तेरी आदत हो गई,
क्या प्रेम तराजू,
मेरा प्रेम भी तोलेगा,
इंतजार करूंगा,
कब तू मंदिर खोलेगा,
मैं रंग लगाने आया,
तुझको सांवरिया,
इंतजार करूंगा,
कब तू मंदिर खोलेगा,
मुझे पता है.....।

मुझे पता है खाटू वाले,
तू सब देख रहा,
मुझे पता है खाटू वाले,
तू सब देख रहा,
मैं सोच रहा हूं,
कब तू बाबा खोलेगा,
इंतजार करूंगा,
कब तु मंदिर खोलेगा,
मुझे पता है.....।

 

अगर आपको यह भजन अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अन्य लोगो तक साझा करें।


More For You: